coronavirus vaccine registration 18+ | vaccine का कीमत | कौन सा वैक्सीन लगवाना चाहिए ? vaccine के बाद साइड इफेक्ट | वैक्सीन रजिस्ट्रेशन

इन दिनों भारत में कोरोनावायरस का खतरा बहुत अधिक बढ़ गया है। भारत में आई सेकंड वेब लोगों के लिए बहुत घातक साबित हो रहा है।
पहले भारत में कोविड-वैक्सीन की उम्र 45 साल से ऊपर था। लेकिन आंकड़ों से 18 साल से ऊपर वाले लोगों को भी कोरोनावायरस से अधिक खतरा है इसलिए सरकार ने यह फैसला लिया है कि अब 18 साल से ऊपर वाले को भी वैक्सीन दिया जाए।
कोरोनावायरस वैक्सीन लगाने के लिए 28 अप्रैल से इसका रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है। coronavirus vaccine registration 

corona Virus News

 वैक्सीन रजिस्ट्रेशन / coronavirus vaccine registration 18+

1. सबसे पहले आप अपने मोबाइल के ब्राउज़र में जाएं
2. ब्राउज़र में cowin.gov.in सर्च करें।

या आप चाहे तो आरोग्य सेतु( Arogya setu) ऐप का भी प्रयोग कर coronavirus vaccine registration कर सकते है ।
3. जैसे ही उस पर क्लिक कीजिएगा आपके सामने एक होम पेज खुल जाएगा जिसमें सारा आंकड़ा लिखा होगा।
4. नीचे register/sign in yourself लिखा होगा उस पर क्लिक करें।
5. क्लिक करने के बाद एक नया पेज खुल जाएगा वहां पर आप अपना मोबाइल नंबर दर्ज करके गेट ओटीपी पर क्लिक करें।
Note एक मोबाइल नंबर से एक परिवार के चार सदस्य का रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।
6. आपके मोबाइल मैं एक ओटीपी आएगा उस ओटीपी को दर्ज करें।
7. फोटो आईडी प्रूफ का चयन करें।
उदाहरण- आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट और पेंशन पासबुक इनमें से कोई सेलेक्ट करें।
8. आपके पास आधार कार्ड है तो आधार कार्ड सेलेक्ट करके आधार नंबर दर्ज कर लें।
9.  आधार नंबर डालने के बाद आप अपना आधार कार्ड पर लिखा हुआ नाम दर्ज करें।
10. जेंडर सेलेक्ट कर ले।
11. जिस वर्ष आपकी जन्म हुई उस वर्ष को दर्ज करें।
12. रजिस्टर पर क्लिक करें। आपका रजिस्टर हो जाएगा आपको मैसेज भी मिल जाएगा।

वैक्सीन लगाने के लिए जब आप घर से निकलेंगे तो आप अपने साथ फोटो आईडी प्रूफ और मोबाइल अवश्य रख ले।

दिए गए टाइम पर वैक्सीन नहीं लगाए तो? 

अगर किसी वजह से आप तय समय पर vaccine लगाने नहीं जा पाएंगे तो 24 घंटे के अंदर आप उसे रीशेड्यूल भी कर सकते हैं। लेकिन अगर आप तय समय पर नहीं पहुंचे और अपॉइंटमेंट को आगे भी नहीं बढ़ाएं तो अपॉइंटमेंट कैंसिल हो जाएगा। उसके बाद नहीं अपॉइंटमेंट ले सकते हैं।

ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन

यदि किसी व्यक्ति के पास स्मार्टफोन नहीं है या फिर वह ऑनलाइन रजिस्टर नहीं कर सकते हैं तो वह वैक्सीनेशन सेंटर जाकर अपना वैक्सीन लगाने का अपॉइंटमेंट ले सकते हैं। इसके लिए आपको अपने नजदीकी वैक्सीनेशन सेंटर जाना होगा।

वैक्सीन के बाद साइड इफेक्ट / Side Effects of vaccine

वैक्सीन लगाने के बाद किसी-किसी को जिसमें vaccine लिए उस हाथ में सूजन, या फीवर आना यह सब हल्का-फुल्का हो सकता है। इसके लिए आप पेरासिटामोल खा सकते हैं, इन सब से आपको डरना नहीं है वैक्सीन जब काम करती है तो हल्का फुल्का यह सब होता है इससे कोई नुकसान नहीं है हमारे शरीर को, इसलिए बिना डरे वैक्सीन जरूर लगवाएं। वैक्सीन के आपका दूसरा डोज का समय आएगा तो आपको इसके बारे में सूचित किया जाएगा।

corona_virus

सावधानियां / Precautions

वैक्सीन के दोनों डोज लेने के बाद भी आप Corona से 100% सुरक्षित नहीं है।
वैक्सीन के बाद भी करोना होने का संभावना है लेकिन वैक्सीन लेने के बाद कोरोना से होने वाली खतरा कम हो जाती है और वैक्सीन के बाद मरने का चांस नहीं रह पाता है। इसलिए वैक्सीन लगवा लें।
वैक्सीन लगाने के लिए जाते टाइम मास्क लगाकर जाएं, आपस में 2 गज की दूरी रखें, सनिटईजर का इस्तेमाल करें। वैक्सीन के दूसरा डोज लगने के 2 या 3 सप्ताह बाद आपकी इम्युनिटी बढ़ती है।

वैक्सीन का कीमत

सरकारी हॉस्पिटलों में या वैक्सीनेशन सेंटर मैं आप इस वैक्सीन को लगाते हैं तो आपको मुफ्त में लगाई जाएगी। यदि आप इसी vaccine को किसी प्राइवेट हॉस्पिटल में लग जाते हैं तो इसकी कीमत ढाई ₹250 चुकानी पड़ेगी।

कौन सा वैक्सीन लगवाना चाहिए?

अभी भारत में वैक्सीन चयन करने का अधिकार नहीं दिया गया है। वैसे तो सभी वैक्सीन अच्छा ही है लेकिन अलग-अलग वैक्सीन अलग-अलग तरह से काम करता है। अभी भारत में तीन वैक्सीन का अप्रूवल मिला है जिनमें से दो वैक्सीन ‘कोविशिल्ड(Covisheald) और कोवैक्सीन(Covaccine)’ लगाया गया है। कोविशिल्ड का पहला डोज लगाने के बाद दूसरी डोर 42 से 56 दिन के अंतराल पर लगाना चाहिए, कोवैक्सीन का पहला दोष लगाने के बाद दूसरी डोज 28 के बाद लगाना चाहिए जबकि स्पूतनिक वी का पहला डोज लगाने के 21 दिनों के अंतराल में ही दूसरा डोस लगा सकते हैं। अभी सबसे ज्यादा एफिकैसी रेट स्पूतनिक वी का है। एफिकैसी रेट किसी वैक्सीन के लगाने के बाद उसके इफेक्टिवेनेस को दर्शाता है।

coronavirus vaccine, coronavirus vaccine registration

वैक्सीनेशन सेंटर जाने के बाद आपको वैक्सीन का चयन करने का अधिकार नहीं दिया जाएगा।
वैक्सीनेशन सेंटर पर जो भी vaccine अवेलेबल होगा उस वैक्सीन को आपको दिया जाएगा। अगर आपके मन मुताबिक वैक्सीन आपको नहीं दिया जा रहा है तो आप मना कर सकते हैं लेकिन इससे आपको उस टाइम दूसरी वैक्सीन नहीं दिया जाएगा, इसके लिए आपको दोबारा से रजिस्ट्रेशन कराना होगा।
अभी भारत में 3 वैक्सीन का अप्रूवल मिल चुका है तीनों वैक्सीन के बारे में जानने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

कौन से वैक्सीन लगवाएं ? Corona Virus News | वैक्सीन के बाद संक्रमण का चांस ?  सभी को वैक्सीन क्यों नहीं | दूसरे डोज में इतना गैप क्यों ? Covid-19, Vaccine, Immune System, संक्रमण

हम रोजाना ऐसे ही जानकारी newindiascheme.com के द्वारा आपके लिए लाते रहेंगे । इसके लिए हमारे website को follow करे , ताकि हमारे द्वारा new updates आपको सबसे पहले मिले । 

Thank you for reading this post…

posted by – Rohit kumar 

घर बैठे Corona जांच, immune system कैसे काम करता, corona वायरस की बारे में  कुछ जानकारियां, कौन से का वैक्सीन effectiveness जयादा है

Lockdown New Update | भारत में कोरोना का second weve | भारत में लोकडॉन | क्या दोबारा लॉकडाउन लगेगा ?

5G भारत कब आएगा, कितना स्पीड देगा | 5G mobile network, LTE, VOLTE कैसे काम करती है | इससे जुड़ी सारी जानकारी |कैसे होता है communication ?  

कौन सा वैक्सीन लगवाना चाहिए?

अभी भारत में वैक्सीन चयन करने का अधिकार नहीं दिया गया है। वैसे तो सभी वैक्सीन अच्छा ही है लेकिन अलग-अलग वैक्सीन अलग-अलग तरह से काम करता है। अभी भारत में तीन वैक्सीन का अप्रूवल मिला है जिनमें से दो वैक्सीन ‘कोविशिल्ड और कोवैक्सीन’ लगाया गया है। कोविशिल्ड का पहला डोज लगाने के बाद दूसरी डोर 42 से 56 दिन के अंतराल पर लगाना चाहिए, कोवैक्सीन का पहला दोष लगाने के बाद दूसरी डोज 28 के बाद लगाना चाहिए जबकि स्पूतनिक वी का पहला डोज लगाने के 21 दिनों के अंतराल में ही दूसरा डोस लगा सकते हैं। अभी सबसे ज्यादा एफिकैसी रेट स्पूतनिक वी का है। एफिकैसी रेट किसी वैक्सीन के लगाने के बाद उसके इफेक्टिवेनेस को दर्शाता है।

दिए गए टाइम पर वैक्सीन नहीं लगाए तो? 

अगर किसी वजह से आप तय समय पर vaccine लगाने नहीं जा पाएंगे तो 24 घंटे के अंदर आप उसे रीशेड्यूल भी कर सकते हैं। लेकिन अगर आप तय समय पर नहीं पहुंचे और अपॉइंटमेंट को आगे भी नहीं बढ़ाएं तो अपॉइंटमेंट कैंसिल हो जाएगा। उसके बाद नहीं अपॉइंटमेंट ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *