Balaram Yojana, balaram yojana apply online, balram yojana, balaram yojana list

बलराम योजना ऑनलाइन आवेदन, बलराम योजना लाभ और पात्रता, भूमिहीन किसानों के मदद, बलराम योजना के लाभ, बलराम योजना से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी इस पोस्ट में मौजूद है। इस पोस्ट में इस योजना के बारे में सभी प्रकार का विवरण स्पष्ट रूप से दिया गया है ताकि आपको आवेदन करने में कोई भी समस्याओं का सामना नहीं करना पड़े।

Odisha Balaram Yojana

Odisha Balaram Yojana बलराम योजना क्या है?

भूमिहीन किसानों को कृषि लोन देने के लिए ओडिशा सरकार के द्वारा बलराम योजना की शुरुआत की गई है। Odisha balram yojana के अंतर्गत कोरोना वायरस महामारी के कारण कठिनाइयों का सामना कर रहे है, भूमिहीन किसानों को उड़ीसा सरकार के द्वारा 1040 करो रुपए का कर्ज दिया जाता है। इस योजना का निर्णय राज्य सरकार के मुख्य सचिव असित कुमार त्रिपाठी की अध्यक्षता की एक उच्च स्तरीय बैठक में ली गई थी। कृषि और कृषक सशक्तिकरण विभाग के सचिव गौरव गर्ग के द्वारा कहा गया है कि भूमिहीन किसानों को जेएलजी के माध्यम से क्रेडिट दिया जाएगा जो कि सामाजिक बीमा के रूप में होगा। कृषि और कृषक सशक्तिकरण विभाग के सचिव सौरभ गर्ग से उड़ीसा सरकार ने कहा कि पहले भूमिहीन किसान कृषि लोन लेने में सक्षम नहीं होते थे लेकिन अब उनको संयुक्त देयता समूह के माध्यम से कृषि लोन दिया जाएगा जो कि सामाजिक गारंटी के रूप में कार्य करती है।

योजना का नाम ओडीशा बलराम योजना
लॉन्च किया गया ओडीशा सरकार के द्वारा
लाभार्थी उड़ीसा के भूमिहीन किसान
उद्देश्य क्रेडिट प्रदान करना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
Official website click here
Our website click here

ओडिशा बलराम योजना के लाभ क्या है?

  • balaram yojana का लाभ आने वाले 2 वर्षों में लगभग 7 लाख भूमिहीन किसानों को दिया जाएगा।
  • योजना को राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास केंद्र के साथ एक टीम के रूप में संचालित की गई है।
  • कृषि विस्तार प्रबंधन संस्था और कृषि प्रतियोगी प्रबंधन एजेंसी योजना के लिए व्यक्तिगत रूप में राज्य और क्षेत्र पर नोडल संगठन के रूप में कार्य करती है।
  • अर्ध शहरी क्षेत्रों में विभिन्न बैंकों और पैक्स के लगभग 7 हजार से किसानों के लाभ के लिए है।

ओडिशा बलराम योजना की पात्रता क्या है?

  • ओडिशा राज्य के अस्थाई निवासी हो।
  • किसान इस योजना के पात्र माने जाते हैं।
  • किसान के पास कोई भी जमीन नहीं हो।

Required document for Odisha Balaram yojana 2022

  • पहचान पत्र
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • कृषक होने का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट
  • मोबाइल नंबर

How to online apply Odisha Balaram Yojana 2022

  • सबसे पहले उड़ीसा बलराम योजना के अधिकारी वेबसाइट पर जाना है।
  • होम पेज पर ऑनलाइन अप्लाई करें के लिंक पर क्लिक करना है।
  • आवेदन फॉर्म में सभी प्रकार की जानकारी भरे जैसे अपना व्यक्तिगत विवरण और सभी डाक्यूमेंट्स को अपलोड करें।
  • सही प्रक्रिया पूरी हो जाने के बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।
  • आपका उड़ीसा प्रणाम योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन हो जाएगा।

ओडिशा बलराम योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है?

  • आपको बता दें कि पहले किसान ऋण में लोन लेने में सक्षम नहीं होते थे लेकिन अब उड़ीसा राज्य ने बलराम योजना की शुरुआत की गई है अब ओडिशा राज्य के किसानों के लिए बहुत ही खुशी की बात है क्योंकि इस योजना के माध्यम से कृषि ऋण प्राप्त कर सकते हैं।
  • balram yojana की घोषणा ओड़िशा सरकार के द्वारा किया गया है लेकिन इस योजना का संचालन राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक नवाड़ा के द्वारा संचालित किया जाएगा।
  • balaram yojana के माध्यम से उड़ीसा राज्य के श्रमिकों को सरकार के द्वारा आर्थिक सहायता ऋण के रूप में दिया जाएगा।
  • सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि पूरे भारत में उड़ीसा बलराम ओडीशा बलराम योजना सबसे अलग है क्योंकि अभी तक पूरे भारत में ऐसा योजना कभी नहीं बनाया गया है।

हम रोजाना ऐसे ही जानकारी newindiascheme.com के द्वारा आपके लिए लाते रहेंगे । इसके लिए हमारे website को follow करे , ताकि हमारे द्वारा new updates आपको सबसे पहले मिले ।

Thank you for reading this post

Posted By – Rohit Kumar

Also read

FAQ

Odisha Balaram Yojana बलराम योजना क्या है?

भूमिहीन किसानों को कृषि लोन देने के लिए ओडिशा सरकार के द्वारा बलराम योजना की शुरुआत की गई है। Odisha balram yojana के अंतर्गत कोरोना वायरस महामारी के कारण कठिनाइयों का सामना कर रहे है, भूमिहीन किसानों को उड़ीसा सरकार के द्वारा 1040 करो रुपए का कर्ज दिया जाता है। इस योजना का निर्णय राज्य सरकार के मुख्य सचिव असित कुमार त्रिपाठी की अध्यक्षता की एक उच्च स्तरीय बैठक में ली गई थी। कृषि और कृषक सशक्तिकरण विभाग के सचिव गौरव गर्ग के द्वारा कहा गया है कि भूमिहीन किसानों को जेएलजी के माध्यम से क्रेडिट दिया जाएगा जो कि सामाजिक बीमा के रूप में होगा। कृषि और कृषक सशक्तिकरण विभाग के सचिव सौरभ गर्ग से उड़ीसा सरकार ने कहा कि पहले भूमिहीन किसान कृषि लोन लेने में सक्षम नहीं होते थे लेकिन अब उनको संयुक्त देयता समूह के माध्यम से कृषि लोन दिया जाएगा जो कि सामाजिक गारंटी के रूप में कार्य करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.