Uttarakhand Gaura Devi dhan Yojana, nanda Gaura Devi Kanya Dhan Yojana avedan form, gaura Devi Kanya Dhan Yojana application form, उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना, नंदा गौरा देवी कन्या धन योजना।

गौरा देवी कन्या धन योजना की शुरुआत उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी के द्वारा 1 जुलाई 2017 को की गई थी। इस योजना को आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के बालिकाओं के लिए शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से बालिकाओं को 12वीं पास करने पर 51 हजार वित्तीय सहायता के रूप में उत्तराखंड सरकार के द्वारा दी जाती है। इस पोस्ट में हम आपको गौरा देवी कन्या धन योजना से संबंधित सभी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी बताने जा रहे हैं।

Uttarakhand Gaura Devi Kanya Dhan Yojana

Uttarakhand Gaura Devi Kanya Dhan Yojana क्या होता है?

उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना उत्तराखंड के सरकार के द्वारा शुरू किया गया है इस योजना की शुरूआत खासतौर पर बालिकाओं के लिए किया गया है। गौरा देवी कन्या धन योजना के माध्यम से सामान्य श्रेणी के बीपीएल परिवार की बालिका और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, ओबीसी और अन्य पिछड़े वर्ग के सभी कन्याओं को इस योजना का लाभ दिया जाता है।

  • बालिकाओं के हितों के लिए राज्य सरकार के द्वारा इस योजना में काफी ज्यादा संशोधन किया गया है।
  • पहले इस योजना के माध्यम से बालिकाओं को 12वीं पास करने पर 50 हजार की सहायता राशि दिया जाता था लेकिन
  • अब नंदा गौरा देवी कन्या धन योजना के अंतर्गत बालिकाओं के जन्म के समय 11 हजार रुपए की राशि उनके माता-पिता को दिया जाता है।
  • इस योजना को इसलिए शुरू किया गया ताकि जन्म के समय बेटा और बेटी में हो रहे भेदभाव को खत्म किया जा सके।
  • महिला बाल विकास द्वारा लड़कियों की शिक्षा के लिए 12वीं पास करने के बाद ₹51000 की आर्थिक सहायता प्रदान करके  शिक्षा के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।
  • गौरा देवी कन्या धन योजना का लाभ केवल आर्थिक रूप से कमजोर बालिकाओं को दिया जाता है। 
राज्य उत्तराखंड
योजना गौरा देवी कन्या धन योजना
योजना के प्रकार उत्तराखंड सरकारी योजना
कब शुरू किया गया 1 जुलाई 2017 को
किसके द्वार शुरू किया गया उत्तराखंड के सीएम श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी
उद्देश्य गरीब कन्याओं को आर्थिक सहायता राशि देना
लाभ लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाना
लाभार्थी उत्तराखंड के बालिकाएं
Offical website click here
Our website click here

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana के अंतर्गत आवेदन करने की तिथि।

उत्तराखंड सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत बालिकाओं को आर्थिक मदद देने के लिए पंजीकृत की तिथि 30 नवंबर तय की गई हैं। राज्य की लड़कीया जिन्हें इस साल 12वीं की परीक्षा की है उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना 2022 के अंतर्गत 30 नवंबर तक पंजीकरण कर सकती है। इस योजना के अंतर्गत जन्म से 6 महीने के अंदर पंजीकरण करने वाले लड़कियों के परिवार को ₹11000 की राशि प्रदान की जाएगी उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना के अंतर्गत प्रतिवर्ष 1 अप्रैल से 30 नवंबर के बीच आप कभी भी पंजीकरण कर सकते हैं। पंजीकरण करने के बाद इन लड़कियों को उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना के अंतर्गत ₹51000 की धनराशि सरकार द्वारा दी जाती है।

गौरा देवी कन्या धन योजना का उद्देश्य क्या है

गौरा देवी कन्या धन योजना का उद्देश्य यही है कि बालिकाओं को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित किया जा सके। शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए इस योजना की शुरूआत की गई। अभी भी उत्तराखंड के बहुत सारे ग्रामीण इलाकों में शिक्षा के अभाव है और बालिकाओं की शिक्षा के प्रति कोई ध्यान नहीं देता है। गौरा देवी कन्या धन योजना के माध्यम से बालिकाओं की शिक्षा के स्तर को बढ़ावा देने के लिए एक बेहतर प्रयास किया जा रहा है। इसके साथ-साथ बेटियों के साथ हो रहे भेदभाव और भूण हत्या जैसे अपराधों को रोकने के लिए भी इस योजना में प्रयास किया जा रहा है।

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana के लिए योग्यताएं।

  • 12वीं पास करने के बाद कौन-कौन इस योजना का लाभ उठा सकता है इसके लिए निर्णय योग्यताएं होनी आवश्यक है।
  • योजना का लाभ उठाने के लिए आप 12वीं कक्षा की छात्रा होना जरूरी है।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपके पास उतरा खंड की अवस्थाएं निवासी का प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • उत्तराखंड नंदा गौरा कन्या धन योजना में आवेदन करने के लिए परिवार की वार्षिक आय को भी ग्रामीण तथा शहरी  नागरिक के विभिन्न गांवों के आधार पर निश्चित किया गया है|
  • ग्रामीण क्षेत्र के परिवार से संबंधित रखती है तो उस परिवार की वार्षिक आय ₹15976 होने आवश्यक हैं।
  • वहीं यदि शहरी क्षेत्र से संबंध रखती है तो परिवार की वार्षिक आय ₹21206 होनी आवश्यक है|
  • इस योजना का लाभ केवल बीपीएल वर्ग के लड़कियों को मेल पता है जो गरीबी रेखा से नीचे आते हैं।
  • इस योजना का लाभ केवल अविवाहित छात्र ही उठा सकती है। 12वीं कक्षा में पढ़ रही छात्रा की उस वर्ष की 1 जुलाई को उसकी आयु 15 वर्ष से कम होने जरूरी है।

इस योजना के लिए क्या जरुरी दस्तावेज लगते है?

  • आधार कार्ड
  • बीपीएल कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • परिवार रजिस्टर की मूल प्रति
  • हाईस्कूल की मार्कशीट
  • यदि 18 साल से ऊपर है तो वोटर आईडी कार्ड
  • 12वीं कक्षा में पढ़ रही छात्र का विद्यालय रोल नंबर
  • बैंक खाता
  • आय प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो।

गौरा देवी कन्या धन योजना का आवेदन कैसे करें?

  • सबसे पहले गौरा देवी कन्या धन योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जाएं।
  • होम पेज पर आवेदन पत्र के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • उस आवेदन फॉर्म को डाउनलोड करके प्रिंट आउट निकलवा ले।
  • आवेदन फॉर्म में जो भी जानकारी पूछी गई है सभी जानकारी सही-सही भरें।
  • अपना नाम
  • विद्यालय का नाम
  • माता पिता का नाम
  • माता पिता का व्यवसाय
  • छात्र की अन्य बहन की संख्या
  • इंटरमीडिएट परीक्षा रोल नंबर
  • डेट ऑफ बर्थ
  • जाति श्रेणी
  • बीपीएल आईडी नंबर
  • डिस्टिक
  • स्टेट
  • बैंक से संबंधित जानकारी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद सभी जरूरी दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म के साथ अटैच करें और फिर डीपीओ कार्यालय या अपने स्कूल में आवेदन फॉर्म को जमा कर दें।

गौरा देवी कन्या धन योजना एप्लीकेशन स्टेटस कैसे चेक करें?

  • गौरी कन्या धन योजना के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है।
  • होम पेज पर आवेदनों की वर्तमान स्थिति जाने के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • नेक्स्ट पेज पर पूछी गई सभी जानकारी सही-सही भरना है जैसे – जिला का नाम, ब्लॉक, स्कूल, छात्रवृत्ति आवेदन संख्या
  • और कैप्चा कोड और खोजे के बटन पर क्लिक कर देना है।
    नेक्स्ट पेज पर आवेदन से संबंधित स्टेटस आपके सामने आ जाएगा।
    इसी प्रकार आप Gaura Devi Kanya Dhan Yojana का आवेदन स्थिति चेक कर सकते हैं।

हम रोजाना ऐसे ही जानकारी newindiascheme.com के द्वारा आपके लिए लाते रहेंगे । इसके लिए हमारे website को follow करे , ताकि हमारे द्वारा new updates आपको सबसे पहले मिले ।

Thank you for reading this post

Posted By – Rohit Kumar

Also read

Gaura Devi Kanya Dhan Yojana के अंतर्गत आवेदन करने की तिथि।

उत्तराखंड सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत बालिकाओं को आर्थिक मदद देने के लिए पंजीकृत की तिथि 30 नवंबर तय की गई हैं। राज्य की लड़कीया जिन्हें इस साल 12वीं की परीक्षा की है उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना 2022 के अंतर्गत 30 नवंबर तक पंजीकरण कर सकती है। इस योजना के अंतर्गत जन्म से 6 महीने के अंदर पंजीकरण करने वाले लड़कियों के परिवार को ₹11000 की राशि प्रदान की जाएगी उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना के अंतर्गत प्रतिवर्ष 1 अप्रैल से 30 नवंबर के बीच आप कभी भी पंजीकरण कर सकते हैं।

गौरा देवी कन्या धन योजना का उद्देश्य क्या है?

गौरा देवी कन्या धन योजना का उद्देश्य यही है कि बालिकाओं को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित किया जा सके। शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए इस योजना की शुरूआत की गई। अभी भी उत्तराखंड के बहुत सारे ग्रामीण इलाकों में शिक्षा के अभाव है और बालिकाओं की शिक्षा के प्रति कोई ध्यान नहीं देता है। गौरा देवी कन्या धन योजना के माध्यम से बालिकाओं की शिक्षा के स्तर को बढ़ावा देने के लिए एक बेहतर प्रयास किया जा रहा है। इसके साथ-साथ बेटियों के साथ हो रहे भेदभाव और भूण हत्या जैसे अपराधों को रोकने के लिए भी इस योजना में प्रयास किया जा रहा है।

उत्तराखंड गौरा देवी कन्या धन योजना क्या होता है?

Uttarakhand Gaura Devi Kanya Dhan Yojana उत्तराखंड के सरकार के द्वारा शुरू किया गया है इस योजना की शुरूआत खासतौर पर बालिकाओं के लिए किया गया है। गौरा देवी कन्या धन योजना के माध्यम से सामान्य श्रेणी के बीपीएल परिवार की बालिका और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, ओबीसी और अन्य पिछड़े वर्ग के सभी कन्याओं को इस योजना का लाभ दिया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.