Gobar Dhan Yojana online apply 2022, Govardhan Yojana application form, Pradhan mantri Govardhan Yojana, Govardhan Yojana in hindi, Gobardhan yojana application status, गोवर्धन योजना ऑनलाइन आवेदन 2022 गोबर धन योजना एप्लीकेशन स्टेटस चेक गोबर धन योजना आवेदन गोवर्धन योजना रजिस्ट्रेशन, gobardhan का लाभ, उद्देश्य, पात्रता, आवेदन कैसे करें? यह योजना क्या होता है? सभी प्रकार की जानकारी इस पोस्ट में दिया गया है। Gobardhan Yojana full form – Globalising Organic Bio Agro Resources Dhan Yojana

Gobar Dhan Yojana की शुरुआत क्यों किया गया?

Gobar Dhan Yojana की शुरुआत प्रधानमंत्री जी के द्वारा की गई थी। 1 फरवरी 2018 को गोबर धन योजना की घोषणा किया गया था। इसकी शुरुआत देश के किसानों के लिए किया किया गया है ताकि किसानों को ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके। इस योजना के अंतर्गत किसानों से उसकी खेतों में अपशिष्ट पदार्थ जैसे गीला और सूखा, कुरा गोबर के मल को खरीद कर सरकार के द्वारा उन्हें गैस के रूप में परिवर्तित किया जाता है। गोबर धन योजना को स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत चलाया गया है इससे कि देश में स्वच्छता को बढ़ावा दिया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत सरकार के द्वारा किसानों से गोबर और फसल के बचे अवशेष को भी उचित दामों में खरीद लिया जाता है गोबर और खेतों के ठोस अपशिष्ट पदार्थ भूसा, पत्ते को कंपोस्ट बायोगैस या बायो सीएनजी में परिवर्तित किया जाता है।

Cow dung Gobar Dhan Yojana gobardhan

Gobar Dhan Yojana क्या होता है?

गोवर्धन योजना को पहली बार अरुण जेटली जी के द्वारा 1 फरवरी 2018 को घोषणा किया गया था और इसे केंद्र सरकार के सहयोग से सुचारू रूप से आगे बढ़ाया गया इस योजना के अंतर्गत किसानों से गोबर और फसल अवशेष को उचित दामों में खरीदा जाता है। इस योजना को Globalising Organic Bio Agro Resources Dhan Yojana भी कहते हैं। सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत सभी जिले का एक गांव चुना जाएगा जिससे प्रत्येक जिले में एक कलेक्टर का निर्माण किया जाएगा, 70 कलेक्टर को स्थापित किया जाएगा। इस योजना को शुरू होने से किसान के आर्थिक स्थिति में भी सुधार आएगा और जो भी लोग इस योजना का लाभ लेना चाहते उन्हें करना होता है।

योजना गोबर धन योजना
विभाग का नाम पेयजल एवं स्वच्छता विभाग
शुरू प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
मिशन स्वच्छ भारत मिशन
कब शुरू किया गया 1 February 2018
उद्देश्य किसानों को अतिरिक्त आय देना
लाभार्थी देश के किसान
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
ऑफिशल वेबसाइट क्लिक हेयर
हमारा वेबसाइट क्लिक हेयर

Gobar Dhan Yojana का उद्देश्य

आप लोगों को तो पता ही है कि ग्रामीण इलाके में आधा से ज्यादा आबादी कृषि और पशुपालन पर ही निर्भर करता है। और इसी में उनका सारा जीवन व्यतीत हो जाते हैं और उन लोगों के पास संसाधन की भी कमी होती है। कोई भी गैस की सुविधा नहीं होता है और हमारे ग्रामीण इलाके में ज्यादा महिलाएं तो चूल्हे पर ही खाना उनको बनाना पड़ता है। धुआं उनके शरीर में प्रवेश कर जाता है। जिससे उनके अंदर बीमारियां भी हो जाती है या फिर या फिर गंदगी से लोगों को बहुत ज्यादा नुकसान देता है। तो महिलाओं को लाभ देने के लिए प्रधानमंत्री ने पीएम उज्जवला गैस योजना की शुरुआत की थी और फिर प्रधानमंत्री स्वच्छ भारत करने के लिए प्रधानमंत्री के द्वारा गोबर धन योजना की शुरुआत की गई। इस योजना में अपशिष्ट पदार्थ को गैस के रूप में उपयोग किया जाता है और इसका लाभ ग्रामीण इलाकों की महिलाओं और किसानों को दिया जाता है इस योजना को शुरू करने का उद्देश्य यही है कि हमारा देश स्वच्छ रहें और लोग भी सुरक्षित रहें। और इससे किसानों को इससे आय भी प्राप्त होगा।

Govardhan Yojana Stakeholder

  • Department of agriculture, cooperation and farmers welfare
  • Department of Agricultural Research and Education
  • Department of rural development
  • Department of new and renewable energy
  • Department of drinking water and sanitation
  • Department of animal husbandry and dairying
  • Ministry of petroleum and natural

गोबर धन योजना से मिलने वाले लाभ क्या है?

  • गोबर धन योजना का लाभ देश के सभी किसानों को दिया जाता है।
  • gobardhan yojana शुरू होने से हमारे देश में प्रदूषण में भी कमी होगी और किसानों की आय में भी बढ़ोतरी किया जाएगा।
  • gobardhan Yojana 2022 के अंतर्गत किसानों की आय दोगुना करने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया गया है, जिससे कि ग्रामीण क्षेत्र के किसान रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।
  • गोबर धन योजना के अंतर्गत पशुओं के मल क्षेत्र के ठोस अपशिष्ट पदार्थ भूसा पत्र और फसल के अवशेष को कंपोस्ट बायोगैस या बायो सीएनजी बनाने में उपयोग किया जाता है।
  • गांव के किसान अपने खेत में ठोस कचरे और गोबर का उपयोग करके उसे खाद उर्वरक जैसे गैस और जैव ईंधन के रूप में उपयोग किया जा सकता है।

गोबर धन योजना का आवेदन करने के लिए क्या सब जरूरी डाक्यूमेंट्स लगते हैं?

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • इस योजना के अंतर्गत केवल के आवेदन कर सकते हैं।
  • ग्रामीण क्षेत्र के किसान योजना के पात्र माने जाते हैं।

Gobar Dhan Yojana 2022 Online Registration

  • गोबर धन योजना का आवेदन करने के लिए पहले ऑफिशल वेबसाइट पर जाना है।
  • होम पेज पर रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करें।
  • उसके बाद रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में सभी जानकारी सही सही भरना है जैसे अपना personal details , पता, नाम, ब्लॉक, जिला, राज्य, गांव का नाम, निवास पता, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर।
  • उसके बाद अपना user ID, mobile number भरें।
  • जो भी मोबाइल नंबर आप रजिस्टर्ड करेंगे उस पर ओटीपी जाएगा।
  • और ओटीपी भरना है, पासवर्ड और कैप्चा कोड भरे और उसके बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।
  • इसी प्रकार आपका govardhan yojana के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया हो जाएगी।

हम रोजाना ऐसे ही जानकारी newindiascheme.com के द्वारा आपके लिए लाते रहेंगे । इसके लिए हमारे website को follow करे , ताकि हमारे द्वारा new updates आपको सबसे पहले मिले ।

Thank you for reading this post

Posted By – Rohit Kumar

Also read

Govar dhan Yojana का उद्देश्य क्या है?

हमारे ग्रामीण इलाके में ज्यादा महिलाएं तो चूल्हे पर ही खाना उनको बनाना पड़ता है। धुआं उनके शरीर में प्रवेश कर जाता है। जिससे उनके अंदर बीमारियां भी हो जाती है या फिर या फिर गंदगी से लोगों को बहुत ज्यादा नुकसान देता है। तो महिलाओं को लाभ देने के लिए प्रधानमंत्री ने पीएम उज्जवला गैस योजना की शुरुआत की थी और फिर प्रधानमंत्री स्वच्छ भारत करने के लिए प्रधानमंत्री के द्वारा गोबर धन योजना की शुरुआत की गई। इस योजना में अपशिष्ट पदार्थ को गैस के रूप में उपयोग किया जाता है और इसका लाभ ग्रामीण इलाकों की महिलाओं और किसानों को दिया जाता है इस योजना को शुरू करने का उद्देश्य यही है कि हमारा देश स्वच्छ रहें और लोग भी सुरक्षित रहें। और इससे किसानों को इससे आय भी प्राप्त होगा।

Gobar Dhan Yojana की शुरुआत क्यों किया गया?

Gobardhan yojana  की शुरुआत प्रधानमंत्री जी के द्वारा की गई थी। 1 फरवरी 2018 को गोबर धन योजना की घोषणा किया गया था। इसकी शुरुआत देश के किसानों के लिए किया किया गया है ताकि किसानों को ज्यादा से ज्यादा लाभ मिल सके। इस योजना के अंतर्गत किसानों से उसकी खेतों में अपशिष्ट पदार्थ जैसे गीला और सूखा, कुरा गोबर के मल को खरीद कर सरकार के द्वारा उन्हें गैस के रूप में परिवर्तित किया जाता है। गोबर धन योजना को स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत चलाया गया है इससे कि देश में स्वच्छता को बढ़ावा दिया जाएगा।

Gobar Dhan Yojana क्या होता है?

गोवर्धन योजना को पहली बार अरुण जेटली जी के द्वारा 1 फरवरी 2018 को घोषणा किया गया था और इसे केंद्र सरकार के सहयोग से सुचारू रूप से आगे बढ़ाया गया इस योजना के अंतर्गत किसानों से गोबर और फसल अवशेष को उचित दामों में खरीदा जाता है। इस योजना को Globalising Organic Bio Agro Resources Dhan Yojana भी कहते हैं। सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत सभी जिले का एक गांव चुना जाएगा जिससे प्रत्येक जिले में एक कलेक्टर का निर्माण किया जाएगा, 70 कलेक्टर को स्थापित किया जाएगा। Gobardhan yojana को शुरू होने से किसान के आर्थिक स्थिति में भी सुधार आएगा और जो भी लोग इस योजना का लाभ लेना चाहते उन्हें करना होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.