Subsidy on warehouse, Gramin Bhandaran Yojana 2022 Apply

हमारा देश जो है वो कृषि प्रधान देश है। हमारे देश का 75% आबादी कृषि पर ही निर्भर होता है। और हमारे देश में किसानों की आर्थिक स्थिति ज्यादा अच्छा नहीं होता है जो वह अपना भंडारण बना सकते हैं। किसानों की समस्या को देखते हुए केंद्र सरकार ने एक योजना का आरंभ किए। इस योजना का नाम ग्रामीण भंडारण योजना है। आपको इस पोस्ट के माध्यम से ग्रामीण भंडारण योजना से संबंधित सभी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी आप से साझा करेंगे। हम जानेंगे कि ग्रामीण भंडारण योजना क्या होता है? इस योजना का उद्देश्य क्या है? विशेषताएं क्या है? लाभ क्या मिलता है? पात्रता क्या होनी चाहिए? आवेदन की प्रक्रिया क्या है? (gramin bhandaran yojana apply) सभी प्रकार की जानकारी इस पोस्ट में दिया गया है।

gramin bhandaran yojana

Gramin Bhandaran Yojana क्या है?

Warehouse Subsidy Scheme

भारत सरकार के द्वारा किसानों को सुविधा देने के लिए ग्रामीण भंडारण योजना की शुरुआत की गई है। ग्रामीण भंडारण योजना का लाभ देश के सभी किसानों को मिलेगा इस योजना के अंतर्गत सरकार के द्वारा किसानों के लिए गोदाम की समुचित व्यवस्था की जाएगी। उस गोदाम में किसान अपना अनाज का भंडारण रख सकते हैं।
कई बार ऐसा होता है कि किसान जब अपनी फसल को सुरक्षित नहीं रख पाते हैं या फिर उनके पास भंडारण जगह नहीं होता है, तो अपनी फसल को कम दामों में ही बेच देते हैं| जिससे कि उनको काफी ज्यादा नुकसान भी हो जाता है। अनाज खराब ना हो जाए इस डर में वह कम मूल्य में ही अपनी फसल को भेज देते हैं| जिससे किसानों को ज्यादा कमाई भी नहीं हो पाता है जितना उनका लागत रहता है वह भी नहीं मिल पाता है इसी सब समस्याओं को देखते हुए सरकार ने ग्रामीण भंडारण योजना की शुरुआत की है। ग्रामीण भंडारण योजना में सब्सिडी भी दी जाती है। किसानों को सब्सिडी प्राप्त करने के लिए पहले इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होता है|

स्कीम का नाम ग्रामीण भंडारण योजना
विभाग का नाम कृषि कल्याण विभाग
लांच किया गया केंद्र सरकार के द्वारा
योजना के प्रकार केंद्र सरकारी योजना
लाभार्थी देश के किसान
साल 2022
उद्देश्य किसानों को गोदाम बनाने के लिए सब्सिडी देना
आवेदन मोड ऑनलाइन और ऑफलाइन
Official website click here
Our website click here

ग्रामीण भंडारण योजना की क्षमता क्या है?

  • ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत क्षमता का निर्णय उद्यमी के द्वारा किया जाता है।
  • सब्सिडी प्राप्त करने के लिए गोदाम की जनता कम से कम 100 टन या फिर अधिकतम 30 हजार टन होना जरूरी होता है।
  • अगर इसकी क्षमता 100 टन से कम या फिर 30,000 टन से ज्यादा होती है तो इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी नहीं दिया जाता है।
  • पर्वतीय क्षेत्रों में 25 टन क्षमता वाले ग्रामीण गोदाम को भी सब्सिडी दी जाती है।
  • 50 टन क्षमता वाले को भी सब्सिडी दी जाती है लेकिन कुछ विशेष मामले में ही।

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत आने वाले लाभार्थी कौन कौन होते हैं?

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत केवल किसान ही नहीं बल्कि अन्य संस्था, कंपनी भी इस योजना के लाभार्थी होते हैं।

  • सरकारी संगठन
  • कृषक उत्पादक समूह
  • गैर सरकारी संगठन
  • स्वयं सहायता समूह
  • कृषि उपज विपणन समिति
  • निगम
  • कंपनीया
  • व्यक्ति
  • परिसंघ
  • प्रतिष्ठान
  • किसान

Warehouse Subsidy Base, (Subsidy on Warehouse)

  • गुणवत्ता प्रमाणन सुविधा (warehouse)
  • गोदाम के निर्माण में लगने वाले पूंजी की लागत पैकेजिंग की सुविधा
  • भीतरी सड़क निर्माण
  • चारदीवारी का निर्माण
  • जल निकासी प्रणाली का निर्माण
  • ग्रेडिंग सुविधा
  • विभिन्न वेयरहाउस (warehouse) सुविधा 
  • प्लेटफार्म का निर्माण (warehouse)

Gramin Bhandaran Yojana के अंतर्गत कौन सा बैंक आते हैं?

  • Commercial bank
  • State Cooperative Bank
  • Agricultural department finance committee
  • North Eastern Development Finance Corporation
  • Regional rural bank
  • Urban Cooperative Bank
  • State Cooperative Agriculture and Rural Development Bank

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत कितनी सब्सिडी दी जाती है?

  1. ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत किसानों को किसी संस्थान, निगम या फिर कंपनी के अंतर्गत सब्सिडी दिया जाता है किसानों को कुल लागत का 15% ही दिया जाता है। इस योजना के लिए 1.35 करोड़ रुपए राशि सरकार के द्वारा तय किया गया है।
  2. कोई ग्रेजुएट है और वह अपने क्षेत्र में किसी प्रोजेक्ट पर काम करता है तो उस प्रोजेक्ट के लिए 25% की सब्सिडी सरकार के द्वारा दिया जाता है और उन्हें सरकार के द्वारा 2.25 करोड़ कि सब्सिडी प्रदान की जाती है।
  3. जो भी लोग पहाड़ी क्षेत्र से हैं या फिर अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति से है तो उन सभी क्षेत्रों में लगने वाले लागत का 1/ 3 भाग सब्सिडी दिया जाता है। उन क्षेत्रों के लिए सरकार के द्वारा तीन करोड रुपए की सब्सिडी प्रदान की जाती है।
  4. किसान को NDC की मदद से भंडारण गृह का निर्माण करने के लिए 25% तक का मदद सरकार के द्वारा दिया जाता है।

जरूरी डाक्यूमेंट्स और पात्रता

Gramin Bhandaran Yojana 2022 का आवेदन करने के लिए कुछ जरूरी डाक्यूमेंट्स लगते हैं। और पात्रता क्या होनी चाहिए।

  • खेत से सम्बन्धित जरूरी दस्तावेज 
  • पहचान पत्र
  • राशन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • भारत के अस्थाई निवासी इस योजना के पात्र माने जाते हैं।
  • आवेदक कृषि कार्य से जुड़ा होना चाहिए।

Gramin Bhandaran Yojana के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है? Gramin Bhandaran Yojana Apply

  • Gramin bhandaran yojana apply के लिए पहले national agriculture culture and rural development के official website पर जाना है।
  • होम पेज पर warehouse subsidy scheme पर क्लिक करें।
  • उसके बाद apply now के बटन पर क्लिक करें।
  • नेक्स्ट पेज पर आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा, आवेदन फॉर्म में जो भी जानकारी पूछी गई है सही-सही भरें।
  • उसके बाद सभी जरूरी डाक्यूमेंट्स को अपलोड करें और फिर सबमिट के बटन पर क्लिक कर दें।

Helpline number

इस पोस्ट में हमने आपको ग्रामीण भंडारण योजना से संबंधित सभी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी दी है अगर फिर भी आपको कोई समस्या हो रही है तो आप इसके हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।

  • Helpline number 022 26539350

हम रोजाना ऐसे ही जानकारी newindiascheme.com के द्वारा आपके लिए लाते रहेंगे । इसके लिए हमारे website को follow करे , ताकि हमारे द्वारा new updates आपको सबसे पहले मिले ।

Thank you for reading this post

Posted By – Rohit Kumar

Also read

ग्रामीण भंडारण योजना की क्षमता क्या है?

सब्सिडी प्राप्त करने के लिए गोदाम की जनता कम से कम 100 टन या फिर अधिकतम 30 हजार टन होना जरूरी होता है। अगर इसकी क्षमता 100 टन से कम या फिर 30,000 टन से ज्यादा होती है तो इस योजना के अंतर्गत सब्सिडी नहीं दिया जाता है।

ग्रामीण भंडारण योजना के लाभार्थी कौन होते हैं?

Gramin Bhandaran Yojana 2022 के अंतर्गत केवल किसान ही नहीं बल्कि अन्य संस्था, कंपनी भी इस योजना के लाभार्थी होते हैं।

ग्रामीण भंडारण योजना के अंतर्गत कितनी सब्सिडी दी जाती है?

किसानों को कुल लागत का 15% ही दिया जाता है। इस योजना के लिए 1.35 करोड़ रुपए राशि सरकार के द्वारा तय किया गया है। प्रोजेक्ट के लिए 25% की सब्सिडी सरकार के द्वारा दिया जाता है और उन्हें सरकार के द्वारा 2.25 करोड़ कि सब्सिडी प्रदान की जाती है। किसान को NDC की मदद से भंडारण गृह का निर्माण करने के लिए 25% तक का मदद सरकार के द्वारा दिया जाता है। पहाड़ी क्षेत्र या अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति को लगने वाले लागत का 1/ 3 भाग सब्सिडी दिया जाता है। तीन करोड रुपए की सब्सिडी प्रदान की जाती है।

ग्रामीण भंडारण योजना क्या है?

भारत सरकार के द्वारा किसानों को सुविधा देने के लिए ग्रामीण भंडारण योजना की शुरुआत की गई है। ग्रामीण भंडारण योजना का लाभ देश के सभी किसानों को मिलेगा इस योजना के अंतर्गत सरकार के द्वारा किसानों के लिए गोदाम की समुचित व्यवस्था की जाएगी। उस गोदाम में किसान अपना अनाज का भंडारण रख सकते हैं।

ग्रामीण भंडारण योजना Helpline number क्या है?

इस पोस्ट में हमने आपको Gramin Bhandaran Yojana 2022 से संबंधित सभी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी दी है अगर फिर भी आपको कोई समस्या हो रही है तो आप इसके हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं।
Helpline number 022 26539350
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.