Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana

सरकार ने किसानों का आय दोगुनी करने के लिए साल 2022 तक का समय निर्धारित किया गया है। किसानों की आय दोगुनी करने के लिए समय-समय पर राज्य सरकार और केंद्र सरकार विभिन्न प्रकार की योजनाएं चलाती है। इन सभी योजनाओं में से आज हम आपको एक योजना के बारे में बताएंगे जिस योजना का नाम है राजीव गांधी किसान न्याय योजना। तो आज हम राजीव गांधी किसान न्याय योजना के बारे में जानते हैं।

rajiv gandhi kisan nyay yojana

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana 2022 / CG kisan Nyay Yojana

राजीव गांधी किसान न्याय योजना का योजना का आरंभ छत्तीसगढ़ के सरकार के द्वारा किया गया है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के द्वारा राजीव गांधी किसान या योजना का आरंभ किया गया है। छत्तीसगढ़ के किसानों के जीवन स्तर को बेहतर बनाने के लिए और उनके आय बढ़ाने के लिए कृषि से जुड़ी हुई सभी प्रकार की सुविधाएं छत्तीसगढ़ के सरकार के द्वारा दिया जाता है। इस योजना के माध्यम से किसानों को 9000 रुपए प्रति एकड़ अदान सहायता राशि दिया जाता है। यह राशि यह राशि मक्का, कोदो, कुटकी, सोयाबीन, अरहर तथा गन्ना उत्पादक कृषकों को दिया जाता है। अगर किसान धान के बदले कोदो कुटकी, गन्ना, अरहर, मक्का, सोयाबीन, दलहन, तिलहन, सुगंधित धान, केला, पपीता, आदि का फसल लगाते हैं या फिर वह वृक्षारोपण करते हैं तो उस किसान को 10000 रुपए प्रति एकड़ आदान सहायता राशि दिया जाता है। वृक्षारोपण करने वाले किसानों को 3 साल तक आदान सहायता राशि दी जाती है।

योजना राजीव गांधी किसान न्याय योजना
किसके द्वारा शुरू किया गया मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल
राज्य का नाम छत्तीसगढ़
साल 2022
योजना का प्रकार राज्य सरकारी योजना
लाभार्थी राज्य के किसान
आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन और ऑफलाइन
Official website click here
Our website click here

Benefits of Rajiv Gandhi kisan nyaay Yojana / राजीव गांधी किसान नया योजना से क्या लाभ मिलता है?

  • इस योजना के माध्यम से किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार किया जा सकता है और उनकी आय में भी वृद्धि होगी।
  • सरकार के द्वारा किसानों को खेती के लिए दी जाने वाली राशि उनके खातों पर ही डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से भेजा जाएगा।
  • राज्य के वैसे किसान जिनके पास अपना खेत खेती करने के लिए नहीं है और वह दूसरे के खेत में खेती करते हैं तो वह भी इस योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • राज्य के 19 लाख किसानों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा।
  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना का लाभ राज्य के सभी किसानों को उनकी धान की फसल का समर्थन मूल्य प्राप्त के लिए दिया जाएगा।
  • राजीव गांधी किसान न्याय योजना का लाभ सिर्फ छत्तीसगढ़ के किसान को ही दिया जायेगा।
  • सरकार के द्वारा इस योजना को बेहतर संचालन के लिए 5100 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है
    इस योजना का लाभ छत्तीसगढ़ के ऐसे किसानों को मिलेगा जो कि धान का खेती करते हैं।

छत्तीसगढ़ न्याय योजना समिति में किए जाने वाले कार्य

  • योजना की समीक्षा और निगरानी करना
  • योजना में आने वाली समस्याओं का समाधान करना
  • योजना की समीक्षा करना
  • अपडेशन एवं आधार लिंकिंग
  • किसानों द्वारा दर्ज की गई शिकायतों का निवारण करना
  • भू अभिलेख तथा शुद्धिकरण
  • ग्राम सभाओं का आयोजन
  • राज्य के सभी लाभार्थियों की जानकारी इकट्ठा करके पोर्टल पर दर्ज करना।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना का सत्यापन करने की प्रक्रिया क्या है?

  • वह किसान जो अन्य फसल लगाए हैं उन्हें उनके संबंधित प्राथमिकता कृषि साख सहकारी समिति में पंजीकरण कराना जरूरी होता है|
  • Registration form का verification रूलर एग्रीकल्चर एक्सटेंशन ऑफिसर के द्वारा किया जाता है।
  • यह सत्यापन गिरदावरी के डाटा के माध्यम से किया जाता है जो कि पोर्टल पर उपलब्ध होता है।
  • किसानों को रजिस्ट्रेशन के साथ सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज जैसे कि लोन बुक, आधार कार्ड, बैंक पासबुक की फोटो कॉपी जमा करना जरूरी होता है।
  • Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana के अंतर्गत किसान सिर्फ वही फसल पर सहायता राशि ले सकते हैं। जिस फसल को इस योजना के अंतर्गत शामिल किया गया है।
  • जो भी किसान राजीव गांधी के सामने आई योजना के अंतर्गत अपना रजिस्ट्रेशन नहीं करवाए हैं वह इस योजना का लाभ नहीं ले सकते हैं।

राजीव गांधी किसान नया योजना का आवेदन करने के लिए क्या सब जरूरी डॉक्युमेंट्स लगते है?

  1. निवास प्रमाण पत्र
  2. आधार कार्ड
  3. आय प्रमाण पत्र
  4. कृषि भूमि दस्तावेज
  5. बैंक पासबुक
  6. पासपोर्ट साइज फोटो

Rajiv Gandhi Kisan Nyaay Yojana आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है?

  • आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको राजीव गांधी किसान निधि योजना के अधिकारी वेबसाइट पर जाना है।
  • और फिर होम पेज पर आवेदन फॉर्म के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • और नेक्स्ट पेज पर आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा फिर आप उससे डाउनलोड करके प्रिंट आउट निकलवा ले।
  • आवेदन फॉर्म में जो भी जानकारी आप से पूछी गई है सभी जानकारी आपको सही-सही भर देना है।
  • उसके बाद आवेदन फॉर्म में जो भी जरूरी डाक्यूमेंट्स बोला गया है सभी जरूरी डाक्यूमेंट्स को अटैच कर करना है।
  • सभी प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपको आवेदन फॉर्म को कृषि विस्तार अधिकारी के कार्यालय में जमा कर देना है।
  • इसी प्रकार आपका Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना का उद्देश्य क्या है?

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana का उद्देश्य यह है कि किसान की आय को दोगुनी किया जा सके। इस योजना के माध्यम से किसानों के उत्पादन में वृद्धि किया जाएगा। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से किसानों को खेती करने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। ना के माध्यम से किसान को धान की फसल पर सही मूल्य प्राप्त होगा। और इसके लिए सरकार इस योजना के अंतर्गत राज्य के कोई भी किसान जिनके पास किसी के लिए अपना भूमि नहीं है। वह दूसरे के खेत में खेती कर रहे हैं तो उन्हें भी इस योजना के अंतर्गत लाभ दिया जाएगा। योजना के माध्यम से सरकार के द्वारा किसानों को आर्थिक सहायता राशि दिया जाएगा। और और राज्य के किसान बिना किसी आर्थिक समस्या के अच्छे से अपना खेती कर सकते हैं। और उनकी आर्थिक स्थिति में भी सुधार होगी।

हम रोजाना ऐसे ही जानकारी newindiascheme.com के द्वारा आपके लिए लाते रहेंगे । इसके लिए हमारे website को follow करे , ताकि हमारे द्वारा new updates आपको सबसे पहले मिले ।

Thank you for reading this post

Posted By – Rohit Kumar

Also Read

राजीव गांधी किसान न्याय योजना का उद्देश्य क्या है?

Rajiv Gandhi Kisan Nyay Yojana का उद्देश्य यह है कि किसान की आय को दोगुनी किया जा सके। इस योजना के माध्यम से किसानों के उत्पादन में वृद्धि किया जाएगा। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से किसानों को खेती करने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। ना के माध्यम से किसान को धान की फसल पर सही मूल्य प्राप्त होगा। और इसके लिए सरकार इस योजना के अंतर्गत राज्य के कोई भी किसान जिनके पास किसी के लिए अपना भूमि नहीं है। वह दूसरे के खेत में खेती कर रहे हैं तो उन्हें भी इस योजना के अंतर्गत लाभ दिया जाएगा। योजना के माध्यम से सरकार के द्वारा किसानों को आर्थिक सहायता राशि दिया जाएगा। और और राज्य के किसान बिना किसी आर्थिक समस्या के अच्छे से अपना खेती कर सकते हैं। और उनकी आर्थिक स्थिति में भी सुधार होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.