E Shram card 2022

इस पोस्ट में हम आपको E Shram card के बारे में सभी जानकारी देंगे, E shram card क्या होता है, E Sharm card online apply, E Sharm card benefits, अगर आप E Shram card से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो पोस्ट को पूरा अंत तक पढ़े।

What is E Sharm card, ई श्रम कार्ड क्या होता है?

असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले मजदूरों को ध्यान में रखते हुए सरकार ने E Shram Portal को लॉन्च किए, और इसके अंतर्गत श्रमिकों का ई श्रम कार्ड बनाया जाएगा।
ई श्रम कार्ड पर श्रमिकों का नाम पता शैक्षिक योग्यता कौशल प्रकार व्यवसाय का विवरण रहेगा।
और 12 अंको का UAN (universal account number) भी दिया जाएगा जो की पूरे भारत में मान्य रहेगा।
श्रम कार्ड को आधार कार्ड से भी जोड़ा जाएगा। पहली बार असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों को श्रम कार्ड के माध्यम से भारत सरकार की एक नई पहचान मिलेगी। श्रम कार्ड के माध्यम से श्रमिकों को कई तरह की योजनाओं का भी लाभ मिलेगा।
E Sharm card का valid जीवन भर रहेगा, इस कार्ड को Renewal करवाने की जरूरत नहीं होगी।

श्रमिकों को नियमित रूप से अपना विवरण को अपडेट करते रहना होगा।
श्रमिकों को ई श्रम पोर्टल पर जाकर या फिर CSC के माध्यम से अपना सारा डिटेल्स अपडेट कर सकते हैं। जैसे मोबाइल नंबर , व्यवसाय, शैक्षणिक योग्यता, कौशल के प्रकार, वर्तमान पता इत्यादि अपडेट करते रहना होगा।

E-Shram-card-2022

E Sharm card को NDUW भी कहा जाता है।
Full form of NDUW ( NDUW का फुल फॉर्म )
nduw full form – national database for unorganised workers.

E Shram card को कब और क्यों शुरू किया गया था ?

E shram card को 26 अगस्त 2021  को लॉन्च किया गया था। E Sharm card को केन्द्र सरकार के द्वारा शुरू किया गया है।
E Sharm card को इस लिए शुरू किया गया क्योंकि असंगठित क्षेत्र में मजदूरों का कोई भी डाटाबेस सरकार के पास नही था।
सभी क्षेत्र में काम करने वाले लोगों का एक डाटाबेस सरकार के पास होता है। जिससे कि सरकार उन लोगों के लिए जो भी योजना लाती है सीधा उन तक पहुंचा दिया जाता है।
लेकिन जो भी लोग असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं। उनका कोई भी डेटाबेस सरकार के पास मौजूद नहीं होता था। सरकार लोगों के लिए योजनाएं लाती थी सीधा उन तक नहीं पहुंच पाता था, इसलिए सरकार से E Shram card की शुरुआत की। असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए सरकार जो भी योजनाएं लाएगी, E Shram card की मदद से उन्हें सीधा लाभ मिलेगा।
E shram card के माध्यम से सरकार एक आंकड़ा तैयार कर रही है। जिसमें कि हमारे देश के अंदर जितने भी लोग असंगठित क्षेत्र में काम करते हैं उन सभी लोगों की जानकारी सरकार के पास मौजूद रहेगी।

Benefits of E Shram card, E Shram card के फायदे क्या है?

  1.  E shram card बनवाने के बाद आपको पीएम सुरक्षा बीमा योजना का भी लाभ मिलेगा।
  2.  अगर आप E Shram card बनवाते है तो सरकार की तरफ से आपको एक unique ID card मिलता है, जिस पर Unique Identification number भी रहता है।
  3.  आप किसी भी क्षेत्र में काम करते हैं, और क्षेत्र के बारे में आपके पास ज्यादा जानकारी नहीं है, तो इस कार्ड की मदद से आपको काम का ट्रेनिंग भी दिया जाएगा।
  4.  अगर सरकार भविष्य में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए कोई भी योजना लाती है तो इस कार्ड की मदद से योजना का लाभ सीधे Workers को मिल जाएगा।
  5.  अगर कोई आपदा के कारण सरकार आर्थिक लाभ देना चाहेगी तो इस कार्ड की मदद से मजदूरों को सीधा लाभ मिलेगा।

E Shram card से मिलेगा सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का benefits

  • अटल पेंशन योजना
  • सार्वजनिक वितरण प्रणाली
  • प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण
  • बुनकरों के लिए स्वास्थ्य बीमा योजना
  • प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना
  • प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना
  • प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना

E Sharm card से रोजगार योजना का भी मिलेगा लाभ

  • मनरेगा।
  • पीएम स्वनिधि।
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना।
  • दीनदयाल उपाध्याय अंत्योदय योजना।
  • दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना।
  • प्रधान मंत्री एंप्लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम।

E shram card के लिए क्या documents जरूरी होता है?

  1.  आधार कार्ड
  2.  निवास प्रमाण पत्र
  3.  पासपोर्ट साइज फोटो
  4.  राशन कार्ड
  5.  आय प्रमाण पत्र
  6.  मोबाइल नंबर

E Sharm card के लिए Online Apply

  1.  सबसे पहले आपको E sharm के अधिकारी वेबसाइट पर जाना है।
  2.  उसके बाद register on E Shram पर क्लिक करें।
  3.  और फिर उसके बाद रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  4.  उसके बाद मोबाईल नंबर डालना है जो आधार कार्ड से लिंक हो।
  5.  उसके बाद आपके मोबाइल फोन पर OTP जायेगा , वो आपको फील करना है, और सबमिट के बटन पर क्लिक करें।
  6.  उसके बाद रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  7.  रजिस्ट्रेशन फॉर्म में जो भी जानकारी पूछा गया उस सभी जानकारी आपको अच्छे से भरना होगा।
  8.  जरूरी डाक्यूमेंट्स को अपलोड करें।
  9.  और उसके बाद सबमिट पर क्लिक करना है।

असंगठित क्षेत्र में क्या काम होता है?

  • खेती करना
  • पशु पालन।
  • छोटे और सीमांत किसान।
  • आरा मिलों पर काम
  • दूध बेचने
  • ऑटो और रिक्शा चलाना
  • प्रवासी मजदूर
  • मनरेगा मजदूर
  • नमक का काम
  • बुनकर और नाई
  • बीड़ी रोलिंग और पैकिंग
  • आशा कार्यकर्ता
  • भवन निर्माण का काम
  • सब्जी और फल बेचना
  • मछुआरा , खदानों में काम करना इत्यादि।

E Sharm card का उद्देश्य क्या है?

ई श्रम कार्ड का उद्देश्य यही है कि सामाजिक सुरक्षा और कल्याणकारी लाभों को प्रवासी और श्रमिकों तक उपलब्ध कराया जाए।
इस कार्ड की मदद से देश में जितने भी असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोग हैं सभी का एक राष्ट्रीय डाटा बेस तैयार करना है। ई श्रम कार्ड के माध्यम से असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को उनके कौशल के अनुसार रोजगार देने में भी सहायता मिलेगी।

ई श्रम कार्ड की मदद से देश के प्रवासी श्रमिक की स्थिति और वर्तमान स्थान के साथ-साथ अनौपचारिक क्षेत्र से औपचारिक क्षेत्रों में श्रमिकों की आवाजाही का पता करना भी है।

राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर ई श्रम कार्ड का

email ID care@gov.in
phone no. 011-23389928

helpline no. 14434 पर आप सोमवार से शनिवार सुबह 8:00 बजे से रात 8:00 बजे तक आप अपनी समस्याओं का समाधान इस नंबर पर प्राप्त कर सकते हैं।

हम रोजाना ऐसे ही जानकारी newindiascheme.com के द्वारा आपके लिए लाते रहेंगे । इसके लिए हमारे website को follow करे , ताकि हमारे द्वारा new updates आपको सबसे पहले मिले । 

Thank you for reading this post…

posted by – Rohit kumar

Also Read This

FAQ

E Sharm card का उद्देश्य क्या है?

ई श्रम कार्ड का उद्देश्य यही है कि सामाजिक सुरक्षा और कल्याणकारी लाभों को प्रवासी और श्रमिकों तक उपलब्ध कराया जाए।
इस कार्ड की मदद से देश में जितने भी असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोग हैं सभी का एक राष्ट्रीय डाटा बेस तैयार करना है। ई श्रम कार्ड के माध्यम से असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को उनके कौशल के अनुसार रोजगार देने में भी सहायता मिलेगी।
ई श्रम कार्ड की मदद से देश के प्रवासी श्रमिक की स्थिति और वर्तमान स्थान के साथ-साथ अनौपचारिक क्षेत्र से औपचारिक क्षेत्रों में श्रमिकों की आवाजाही का पता करना भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.