sahara yojana apply online 2022, Sahara Yojana Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश के गरीब नागरिकों के लिए सरकार ने हिमाचल प्रदेश सहारा योजना की शुरुआत की है हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के अंतर्गत नागरिकों के लिए सरकार फ्री में इलाज किया जायेगा। हिमाचल प्रदेश सहारा योजना की शुरुआत 9 फरवरी 2019 को ही किया गया था। अब इस योजना से जुड़ी हुई सभी जानकारी जानेंगे। जैसे की इस योजना को क्यों शुरू किया गया?, इस योजना में किन-किन बीमारियों का इलाज होता है?, इसी योजना से मिलने वाले लाभ क्या है?, इसके पात्रता क्या है? आवेदन की प्रक्रिया क्या है? (Sahara yojana apply online), आवेदन के लिए क्या सब जरूरी डाक्यूमेंट्स लगते है?

Sahara Yojana

Sahara Yojana Himachal Pradesh क्यों शुरू किया गया?

सहारा योजना की शुरुआत उन लोगों के लिए किया गया है जो गरीबी रेखा से नीचे अपना जीवन यापन करते हैं। जो भी गरीब लोग हैं जिनका आर्थिक स्थिति बहुत ही खराब होता है। अपना जीवन यापन अच्छे ढंग से नहीं कर सकते हैं। उन लोग और कोई भी बीमारी होती है तो नॉर्मल बीमारी में  अपना इलाज करवा लेते हैं। जब कोई बड़ा बीमारी हो जाता है, उसका इलाज नहीं करवा पाते हैं जिसके कारण की मौत भी हो जाती है। इसी समस्या को देखते हुए हिमाचल प्रदेश के राज्य की सरकार ने मुफ्त इलाज देने के लिए सहारा योजना की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के लोगों को 3 हजार रुपए प्रतिमाह मुफ्त इलाज के लिए दिया जाता है।

Himachal Pradesh Sahara Yojana 2022 क्या है?

9 फरवरी 2019 को हिमाचल प्रदेश की सरकार के द्वारा हिमाचल प्रदेश सहारा योजना की शुरुआत की गई थी। सहारा योजना की स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के द्वारा किया गया है। आप सभी लोगों को तो अच्छे से पता ही होगा कि अगर किसी भी व्यक्ति को कोई खराब या घातक बीमारी हो जाती है तो वह इलाज करवाने के लिए कोई प्राइवेट हॉस्पिटल जाते हैं। जहां का खर्चा काफी ज्यादा हो जाता है। लेकिन हमारे राज्य में ऐसे भी लोग हैं जो गरीबी रेखा से नीचे अपना जीवन यापन करते हैं। उन्हें जब कोई बीमारी हो जाती है तो उनके पास इतना पैसा नहीं होता है की वो अपना इलाज करवाए, अगर इलाज करवाते भी बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ जाता है। इन्हीं सब समस्याओं को दूर करने के लिए हिमाचल प्रदेश की सरकार ने बीमारियों के इलाज के लिए सहारा योजना की शुरुआत की है।

योजना का नाम सहारा योजना
राज्य का नाम हिमाचल प्रदेश
शुरू की गई हिमाचल प्रदेश के राज्य सरकार द्वारा
विभाग स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग
लाभार्थी बीमारियों से संक्रमित लोग
उद्देश्य बीमारी से जूझ रहे व्यक्तियों का इलाज करना
लाभ 3000 हजार रुपए हर महीने
आवेदन प्रक्रिया ऑफलाइन और ऑनलाइन
ऑफिशियल वेबसाइट क्लिक हेयर
हमारा वेबसाइट क्लिक हेयर

सहारा योजना के अंतर्गत फ्री में कौन सब बीमारियों का इलाज होता है?

  • किडनी की बीमारी
  • Cancer
  • paralysis
  • Parkinson
  • Muscular Dystrophy
  • Sthalassemia
  • Hemophilia
  • Liver failure

Features and Benefits of HP Sahara Yojana 2022

  • सहारा योजना हिमाचल प्रदेश के गरीब लोगों के लिए एक सहायता कल्याणकारी योजना है।
  • सहारा योजना के अंतर्गत कमजोर वर्ग के परिवारों को सहायता के रूप में बीमारी के इलाज के लिए हर महीने 3000 हजार रुपए तक की वित्तीय सहायता राशि दी जाती है।
  • इस योजना के अंतर्गत उन्हीं परिवारों को लाभ दिया जाएगा जिस परिवार का वार्षिक आय 4 लाख रुपए है।
  • सहारा योजना के अंतर्गत राज्य के लोगों को 12 प्रकार की बीमारियों का मुफ्त में इलाज किया जाएगा।
  • लोगों को इस योजना का लाभ आसानी से मिल सके इसके लिए जिला अस्पताल सहित 14 बड़े अस्पतालों को इसमें शामिल किया गया है।
  • सहारा योजना के अंतर्गत सरकारी अस्पतालों में मुफ्त इलाज की सुविधा भी सरकार के द्वारा दी जाती है और उन्हें वित्तीय सहायता राशि भी दी जाती है।
  • पहले चरण में 6000 मरीजों को लाभ पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है।
  • Indira Gandhi Swasthya Institute सबसे प्रसिद्ध हॉस्पिटल का भी नाम इस योजना में शामिल किया गया है।

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के अंतर्गत शामिल हुए लोगों की संख्या कितनी है?

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना की शुरुआत हिमाचल प्रदेश सरकार के द्वारा किया गया है अभी तक राज्य में 6000 मरीजों को इस योजना का लाभ दिया गया है जिसमें से की 80% लोग स्वस्थ भी हो गए हैं और बाकी लोगों का इलाज चल रहा है 12 संस्थानों को प्रथम चरण में शामिल किया गया जिससे कि लोगों किसी प्रकार की कोई समस्या ना हो।

सहारा योजना की पात्रता और जरूरी दस्तावेज क्या है?

  • हिमाचल प्रदेश के मूल निवासी इस योजना का आवेदन कर सकते हैं।
  • जिनके परिवार की वार्षिक आय 4 लाख से ज्यादा नहीं है वहीं इस योजना के पात्र माने जाते हैं।
  • आवेदक को इस योजना का सहायता लेने के लिए अपनी बीमारी का प्रमाण पत्र बनवाना होता है।
  • इस योजना का लाभ लेने के कोई भी आयु सीमा निर्धारित नहीं की गई है।
  • सरकारी पेंशन का लाभ लेने वाले लोग इस योजना के पात्र नहीं माने जाते हैं।
  • जो भी लोग गरीबी रेखा से नीचे अपना जीवन यापन करते हैं वह इस योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक के अकाउंट
  • बैंक अकाउंट
  • वोटर आईडी कार्ड
  • treatment records
  • पासपोर्ट साइज फोटो

आइए अब जानते है कि हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के लिए आवेदन कैसे किया जाता है?

  • हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के लिए आप ऑनलाइन (Sahara yojana apply online), ऑफलाइन दोनों तरीके से आवेदन कर सकते हैं।
  • हिमाचल प्रदेश सहारा योजना आवेदन के लिए आपको इसकी ऑफिशल वेबसाइट पर जाना है।
  • उसके बाद होम पेज पर डाउनलोड आवेदन फॉर्म पर क्लिक करें।
  • नेक्स्ट पेज पर हिमाचल प्रदेश सहारा योजना का (Sahara yojana online) आवेदन फॉर्म  खुल जाएगा उसे डाउनलोड कर ले।
  • आवेदन फॉर्म में जो भी जानकारी पूछी गई है सभी जानकारी सही-सही भर दे और सभी जरूरी डाक्यूमेंट्स को अटैच कर दें।
  • उसके बाद आप स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग में जाकर आवेदन फॉर्म को जमा कर सकते हैं।

सहारा योजना का ऑफलाइन आवेदन कैसे की जाती है? Sahara Yojana Apply 2022

  • आप अपनी किसी नजदीकी स्वास्थ्य विभाग कार्यालय में सबसे पहले जाना है।
  • वहां अधिकारी से Sahara Yojana के लिए आवेदन फॉर्म लेना है।
  • आवेदन फॉर्म में जुड़ी सभी जानकारी सही-सही भरे।
  • आवेदन फॉर्म को भरने के बाद फिर से एक बार देख ध्यान से देख ले कहीं कुछ छूट तो नहीं गई है फिर उसे सही-सही भर दे।
  • उसके बाद सभी जरूरी डाक्यूमेंट्स को आवेदन फॉर्म के साथ अटैच करें।
  • और फिर से उसी अधिकारी के पास जाकर आवेदन फॉर्म को जमा कर देना है।
  • उसके बाद आवेदन फॉर्म का अधिकारियों के द्वारा जांच पड़ताल किया जाता है और फिर आपको इस योजना का लाभ दिया जाएगा।

Note – अगर आपके घर में या फिर आस पड़ोस में कोई भी लोग ऐसी घातक बीमारी से लड़ रहे हैं। और उनका आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है वह गरीबी रेखा से नीचे अपना जीवन यापन कर रहे हैं तो आप इस योजना का लाभ ले सकते है। और आप अपने आस पड़ोस के लोगो को भी इसके बारे में जानकारी दें। ताकि वो लोग भी अपना इलाज अच्छे से करवा के एक खुशहाल जीवन जी सके और स्वस्थ रहें।

हम रोजाना ऐसे ही जानकारी newindiascheme.com के द्वारा आपके लिए लाते रहेंगे । इसके लिए हमारे website को follow करे , ताकि हमारे द्वारा new updates आपको सबसे पहले मिले ।

Thank you for reading this post

Posted By – Rohit Kumar

Also Read

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के लिए आवेदन कैसे किया जाता है?

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना के लिए आप (sahara yojana apply online) ऑनलाइन, ऑफलाइन दोनों तरीके से आवेदन कर सकते हैं।

सहारा योजना के अंतर्गत शामिल हुए लोगों की संख्या कितनी है?

हिमाचल प्रदेश सहारा योजना की शुरुआत हिमाचल प्रदेश सरकार के द्वारा किया गया है अभी तक राज्य में 6000 मरीजों को इस योजना का लाभ दिया गया है जिसमें से की 80% लोग स्वस्थ भी हो गए हैं और बाकी लोगों का इलाज चल रहा है 12 संस्थानों को प्रथम चरण में शामिल किया गया जिससे कि लोगों किसी प्रकार की कोई समस्या ना हो।
 

Himachal Pradesh Sahara Yojana 2022 क्या है?

9 फरवरी 2019 को हिमाचल प्रदेश की सरकार के द्वारा हिमाचल प्रदेश सहारा योजना की शुरुआत की गई थी। सहारा योजना की स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के द्वारा किया गया है। आप सभी लोगों को तो अच्छे से पता ही होगा कि अगर किसी भी व्यक्ति को कोई खराब या घातक बीमारी हो जाती है तो वह इलाज करवाने के लिए कोई प्राइवेट हॉस्पिटल जाते हैं। जहां का खर्चा काफी ज्यादा हो जाता है| इन्हीं सब समस्याओं को दूर करने के लिए हिमाचल प्रदेश की सरकार ने बीमारियों के इलाज के लिए सहारा योजना की शुरुआत की है।

Sahara Yojana Himachal Pradesh क्यों शुरू किया गया?

सहारा योजना की शुरुआत उन लोगों के लिए किया गया है जो गरीबी रेखा से नीचे अपना जीवन यापन करते हैं। जो भी गरीब लोग हैं जिनका आर्थिक स्थिति बहुत ही खराब होता है| अपना जीवन यापन अच्छे ढंग से नहीं कर सकते हैं। उन लोग और कोई भी बीमारी होती है तो नॉर्मल बीमारी में  अपना इलाज करवा लेते हैं। जब कोई बड़ा बीमारी हो जाता है, उसका इलाज नहीं करवा पाते हैं जिसके कारण की मौत भी हो जाती है। इसी समस्या को देखते हुए हिमाचल प्रदेश के राज्य की सरकार ने मुफ्त इलाज देने के लिए सहारा योजना की शुरुआत की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.