svamitva scheme । प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना ऑनलाइन पंजीकरण yojana application form। स्वामित्व योजना, पीएम स्वामित्व योजना 2022 लाभ, पात्रता ऑनलाइन पंजीकरण – PM Swamitva Yojana 2022, pradhanmantri swamitva yojana, Registration , Svamitva full form

Svamitva full form – Survey of Villages Abadi & Mapping with Improvised Technology in Village Areas, प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने एक नई योजना की शुरुआत की है। इस इस योजना का नाम प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2022 है। इस योजना के अंतर्गत देश में रहने वाले प्रत्येक नागरिक की जमीन का सारा रिकॉर्ड का डिजिटलीकरण स्वराज पर किया जाएगा, और जमीन की नाप के लिए मैपिंग की जाएगी। इस योजना के तहत सरकार द्वारा एक प्रति कार्ड भी दिया जाएगा। इसमें जमीन का सारा रिकॉर्ड का लेखा-जोखा किया जाएगा तथा इसके साथ ही कोई भी बैंक से लोन ले सकते हैं। तो दोस्त आज हम आपको PM Swamitva Yojana 2022 के लाभ, मुख्य विशेषताएं तथा उद्देश्य, मुख्य तथ्य, प्रॉपर्टी कार्ड के आवेदन की प्रक्रिया आदि अपनी पोस्ट में बताने जा रहा हूं। सारी जानकारी के लिए आप से अनुरोध है कि आप हमारी इस पोस्ट को ध्यान से पूरा पढ़ें।

Swamitva Yojana

हर साल प्रधानमंत्री जी द्वारा समय-समय पर इन्हीं सपनों को पूरा करने के लिए कोई न कोई ऑनलाइन योजना शुरू करते रहते हैं। जिससे नागरिक घर बैठे ऑनलाइन सुविधा का लाभ ले सके इस वर्ष भी अक्टूबर में स्वामित्व योजना की शुरुआत करते हुए ई ग्राम स्वराज पोर्टल को ग्रामीण स्वामित्व योजना से जोड़ा गया है। जिससे सभी उम्मीदवार अपना भूमि विवरण देख सकते हैं| इस पोर्टल को पंचायती राज मंत्रालय द्वारा संचालित किया जाएगा।

PM Swamitva Yojana 2022, प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना संपति कार्ड क्या है?

मोदी जी के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के द्वारा संपत्ति कार्ड वितरित करने की घोषणा की गई, साथ ही pradhanmantri swamitva yojana 2022 के अंतर्गत उम्मीदवारों के मोबाइल फोन में मैसेज के अंतर्गत एक लिंक भेजा जाएगा| जिसके माध्यम से कार्ड धारक अपने प्रति कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। और जो संबंधित राज्य सरकार हैं। उम्मीदवारों को फिजिकल कार्ड वितरित करेगी कार प्राप्त होने से आपको अपनी जमीन का मालिकाना हक मिल जाएगा।
ग्रामीण इलाका में निवास करने वाले भूमि धारकों को संपत्ति कार्ड के माध्यम से बैंक को से लोन लेने में भी आसानी होगी। 11 अक्टूबर 2020 को पीएम के द्वारा हरियाणा के द्वारा दूसरे का इस उत्तर प्रदेश के 346 उत्तराखंड 50 गांव महाराष्ट्र के एक सौ लोगों के जमीन का विवरण का उल्लेख किया जाएगा। और योजना के जरिए राजस्व विभाग द्वारा जमीन के कागजात के बारे में पूरा लेखा-जोखा तैयार किया जाएगा। जिससे ऑनलाइन पोर्टल में डाटा तैयार किया जाएगा।

योजना प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना 2022
मंत्रालय का नाम पंचायती राज मंत्रालय
योजना शुरू  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी
लॉन्च किया गया 24 अप्रैल 2020 को
उद्देश्य नागरिकों को जमीन का मालिकाना हक देना
लाभार्थी  देश के नागरिक
ऑफिशियल वेबसाइट क्लिक हेयर
हमारा वेबसाइट क्लिक हेयर

स्वामित्व योजना से मिलने वाले लाभ

  • आप लोग तो जानते ही होंगे की जब कोई सरकारी योजना की शुरुआत होता है, गांव के लोगो को योजना के बारे में  पता नहीं होता है,  लेकिन अब PM Swamitva Yojana के माध्यम से योजनाओं के बारे में लोगो को दिया जा सकता है।
  • PM Swamitva Yojana के माध्यम से जमीन से जुड़े होने वाले सभी भ्रष्टाचार को ख़त्म किया जा सकता है|
  • PM svamitva scheme में अब किसी को अपनी भूमि से जुड़े दस्तावेज के लिए किसी भी पटवारी खाने के चक्कर लगाने की आवश्यकता नहीं होता है।
  • राजस्व विभाग गांव को जमीन का रिकॉर्ड Svamitva scheme के अंतर्गत एकत्रित किया जाता है|
  • ड्रोन के माध्यम से सारे भूमि के विवरण का मुहैया स्वामित्व योजना में कराया जाएगा।
  • ग्रामीण इलाके में रहने वाले व्यक्तियों अपने खेतों के माध्यम से बैंक से ऋण प्राप्त किया जाता है|
  • अब तक  देश के  6 राज्य के गांव महाराष्ट्र यूपी उत्तराखंड मध्य प्रदेश का नाटक हरियाणा में ड्रोन में पिन की शुरुआत कर दी गई है, 2024 तक इसे सारे राज्य में शुरुआत कर दिया जाएगा।
  •  आप लोगो को पता है की 2015 में देश में लगभग 100 ग्राम पंचायती डिजिटल से जुरे हुई थी लेकिन अब 2022 में 125000 तक ग्राम पंचायती डिजिटल  इंटरनेट का लाभ प्राप्त कर रहे है।
  • संपत्ति कार्ड मिलने से जमीन पर होने वाले सभी विवाद खत्म किया जा सकता है|

Pradhanmantri Swamitva Yojana 2022 में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

  • सबसे पहले इ- ग्राम स्वराज की आधिकारिक वेबसाइट पड़ जाना है।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक होम पेज खुल जाएगा।
  • यहां आपको न्यू रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपकी रजिस्ट्रेशन फॉर्म आ जाएगा आपको सभी जानकारी भरनी होगी। जैसे मोबाइल नंबर ईमेल आईडी नाम पासवर्ड दर्ज करना होगा। सभी जानकारी भरने के बाद
  • आप सबमिट के बटन पर क्लिक कर दें।
  • सबमिट के बटन पर क्लिक करने के बाद आपको लॉगिन करने के लिए आपके द्वारा रजिस्टर किया गया मोबाइल नंबर पर एक मैसेज आएगा|
  •  जिसमें आपकी यूजर आईडी और पासवर्ड दिया होगा । आप इनका उपयोग करने के पश्चात पोर्टल पर लॉगिन कर सकते हैं।

PM Swamitva Yojana 2022 ने संपत्ति कार्ड कैसे डाउनलोड करें ?

  • जब आपके फोन में मैसेज भेजा गया होगा, इनबॉक्स में आपको  दिए गए लिंक पर क्लिक करना है।
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद अपना प्रॉपर्टी कार्ड आसानी से डाउनलोड हो जायेगा|
  • इस प्रकार आसानी से अपना कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।
  • नोट – आप लोगो को बता दें की इस योजना के अंतर्गत पीएम मोदी के दुआर  बटन दबाते ही पुरे देशभर के एक लाख जमीन मालिकों को एक एसएमएस भेजा दिया जाता है| लेकिन कुछ समय के बाद राज्य सरकारें स्वयं ही जमीन मालिकों के घर जाकर कार्ड विवरण दिया जायेगा।

हम रोजाना ऐसे ही जानकारी Newindiascheme.com के द्वारा आपके लिए लाते रहेंगे । इसके लिए हमारे website को follow करे , ताकि हमारे द्वारा new updates आपको सबसे पहले मिले ।

Thank you for reading this post

Posted By – Rohit Kumar

Also Read

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना संपति कार्ड क्या है?

मोदी जी के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के द्वारा संपत्ति कार्ड वितरित करने की घोषणा की गई, साथ ही पीएम स्वामित्व योजना 2022 के अंतर्गत उम्मीदवारों के मोबाइल फोन में मैसेज के अंतर्गत एक लिंक भेजा जाएगा| जिसके माध्यम से कार्ड धारक अपने प्रति कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। और जो संबंधित राज्य सरकार हैं। उम्मीदवारों को फिजिकल कार्ड वितरित करेगी कार प्राप्त होने से आपको अपनी जमीन का मालिकाना हक मिल जाएगा।

PM Swamitva Yojana 2022 में ऑनलाइन आवेदन कैसे किया जाता है|

सबसे पहले इ- ग्राम स्वराज की आधिकारिक वेबसाइट पड़ जाना है।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को कब शुरू किया गया?

pradhanmantri swamitva yojana को 24 अप्रैल 2020 को शुरू किया गया |

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना उद्देश्य क्या है?

svamitva scheme का उद्देश्य नागरिकों को जमीन का मालिकाना हक दिला है|

Svamitva full form?

svamitva scheme full form – Survey of Villages Abadi & Mapping with Improvised Technology in Village Areas

Leave a Reply

Your email address will not be published.